जन्म दिन क्या होता है। जन्म दिन पर मां का भाषण / शायरी जो आपके आखे भर देगी

1
जन्म दिन क्या होता है। जन्म दिन पर मां की शायरी जो आपके आशु निकाल देगी । 
एक जन्म दिन की पार्टी मैं बहुत से लोग आए । सभी ने आपना अपना अनुभव बताए जिसमें कई ने तो शायरी कि बोछार लगा दिया वो शायरी मैं नीचे दे दूंगा । सभी को मानना था कि जन्म दिन प्रतेक वर्ष में आए दिन जो किसी व्यक्ति के स्पेशल दिन ( तारिक और महीना ) हो वो दिन उस व्यक्ति का जन्म दिन है। लेकिन बता दे कि उसपे एपीजे अब्दुल कलाम  सर ने भी बोल थे जन्म दिन तो एक जन्म दिन का तारिक है। 
जन्म दिन तो उसे कहते है जिस दिन पहली बार मां अपने बच्चे के रोने से मुस्कुराती है दुबारा ऐसा दिन कभी नहीं आती है जिस दिन मा ने कभी अपने बच्चे के रोने पे मा मुस्कुराए।
जन्म दिन पर देखिए मा क्या बोली हैं । हम बता दे कि मा के इस शायरी पर किसका दिल ना बोले जाय मा
 मा कुछ अलग से तो नहीं बोली है मा का भी कहना है कि । किसी व्यक्ति का वो स्पेशल दिन होता है । जो उसका खास दिन होता है । जिसमें  उसके सभी परिवार और दोस्त लोग आते है । उसको आशीर्वाद प्रदान करते है ।  जन्म दिन इसलिए मानते हैं क्योंकि प्राकृति के द्वारा  दिया हुआ जीवन बहुत महत्पूर्ण हैं । मानव के जीवन में दुख सुख लगा रहता है । इसी सब कुछ को देखते हुए परिवार के लोग और रिश्तेदार  उस व्यक्ति के  सुख दुःख भूलने के लिए एक प्रकार पार्टी के का आयोजन किया जाता हैं जिसमें जिसका जन्म दिन रहता है वो कैक पर खड़े कर देते है मोमबत्ती मोमबत्ती के संख्या ज्यादा तर उम्र अनुसार रखा जाता है  । जैसे किसी का उम्र 18 साल है तो  वो 18 पीस मोमबत्ती खड़ा कर के कैक काटते है। लेकिन ये जरूरी नहीं है कि आप अपने उम्र अनुसार ही रखे क्योंकि अगर किसी व्यक्ति का उम्र 50 साल है तो क्या उसको 50 पीस  मोमबत्ती को जलाना चाहिए ये जरूरी नहीं हैं क्योंकि 50 पीस मोमबत्ती बहुत हो जाती है जोकि कैक पर खड़े नहीं हो सकते है ।
जन्म दिन कब से मनाया जाता है । क्या जन्म दिन नया रीति रिवाज है। 
नहीं जन्म दिन बहुत वर्ष पहले मनाया जाता है । क्योंकि इसका सीधा साधा  उदाहरण भगवान श्री राम  और कई देवी देवता है जिसका जन्म दिन मानव द्वारा मनाया जाता है ।  पहले के समय में  अमीर व्यक्ति ही जन्म दिन मानते थे क्योंकि पहले शिक्षा व्यवस्था की कमी थी जिसके कारण सभी व्यक्ति को अपना जन्म दिन भी नहीं पता था और ऐसा व्यक्ति अभी भी है लेकिन पहले से कम । अमीर व्यक्ति ही इसलिए जन्म दिन मानते थे क्योंकि उसके पास पैसा होता है वो अच्छा पार्टी करता है । लेकिन मैं बता दे की आप भी आपना जन्म दिन माना सकते हैं ये जरूरी नहीं कि आपको पार्टी देना ही पड़ेगा आपको जितना खर्च करना हो उस हिसाब से जन्म दिन माना सकते हो 200 से 250 तक का सिर्फ कैक कटके भी अपने परिवार के साथ जन्म दिन माना सकते हैं
 आपके लिए  तैयार किए है कुछ जन्म दिन की शायरी जो आपके दिल में समा जाएगा
 मेरी दुआ मंजूर हो जाय कि , तेरी हर दुआ मंजूर हो जाय तुम्हे मिले जन्मदिन के हजारों खुशियां और जो आप चाहो वो एक पल में कबूल हो जाय।
मैं लिख दू तुम्हारी उम्र फूल गुलाबो से , में मनाऊ जन्मदिन तुम्हारा चांद सितारों से  ऐसी खूबसूरती  दुनिया से लाऊ कि सारी महफ़िल सज जाय हसी नजरो से आपको जन्म दिन की लाख लाख बधाई

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

Like comment and subscribe

एक टिप्पणी भेजें

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top